शाला दर्पण पर स्थायीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे करें

प्रोबेशनर ट्रेनी जिनके प्रोबेशन काल की समय अवधि पूरी हो गई है वह शाला दर्पण के माध्यम से स्थायीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। राजस्थान शिक्षकों हेतु शाला दर्पण पर यह नया मॉड्यूल प्रारंभ किया गया है जहां से वे स्थायीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर पाएंगे।

How to Apply online confirmation probationer trainny teachers

सरकारी नौकरी में  2 साल के लिए कार्मिक प्रोबेशन की अवधि में रहता है। प्रोबेशन की अवधि सफलतापूर्वक पूर्ण करने के बाद ही कर्मचारी का नियमितीकरण किया जाता है।

जो कर्मचारी/अधिकारी/शिक्षक आदि अपना प्रोबेशन पूर्ण कर लेते हैं उन्हें विभागाध्यक्ष को नियमितीकरण के लिए आवेदन करना पड़ता है। पहले यह आवेदन ऑफलाइन किया जाता था जिसमें काफी समय लगता था और त्रुटि होने पर यह प्रक्रिया और भी लंबी खिंच जाती थी जिससे कार्मिक के स्थायीकरण आदेश जारी होने में विलंब होता था।

वर्तमान में शाला दर्पण के माध्यम से आप अपना प्रोबेशन पीरियड पूरा होने के बाद स्थायीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

स्थायीकरण हेतु ऑनलाइन आवेदन करने के लिए अपने सभी डाक्यूमेंट्स अपलोड करके विभाग को ऑनलाइन प्रेषित करना होगा इसके लिए विभाग ने शाला दर्पण पर प्रोबेशनर ट्रेनी के यह नया मॉड्यूल प्रारंभ किया है।

स्थायीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन करने हेतु कार्मिक को Staff Window में लॉगइन करके अपना आवेदन संस्था प्रधान को प्रेषित करना होगा। संस्था प्रधान इसकी जांच कर उच्च अधिकारी को प्रेषित करेंगे तथा उच्च अधिकारी भी इसकी जांच करके टिप्पणी सहित विभागाध्यक्ष को फॉरवर्ड करेंगे।

इस तरह से स्थायीकरण ऑनलाइन आवेदन तीन स्टेज से गुजरते हुए विभागाध्यक्ष के पास पहुंचेगा इसलिए त्रुटि की संभावना ना के बराबर रहेगी और कार्मिक का नियमितीकरण शीघ्र होगा।

इस तरह से ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया के तीन चरण होंगे-

(1) कार्मिक द्वारा स्थायीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन

(2) संस्था प्रधान द्वारा सीबीईओ को अग्रिम कार्यवाही के लिए प्रेषित

(3) सीबीईओ द्वारा जांच उपरांत विभागाध्यक्ष को प्रेषित।

शाला दर्पण पर स्थायीकरण हेतु ऑनलाइन आवेदन

यदि आप अभी प्रोबेशन पीरियड में कार्य कर रहे हैं या संस्था प्रधान हैं तो आपको अवश्य जानना चाहिए कि स्थायीकरण के लिए ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया क्या है।

शिक्षा विभाग के अधिकारी एवं कर्मचारी शाला दर्पण के माध्यम से ही स्थायीकरण के लिए आवेदन कर सकेंगे और विभाग द्वारा स्थायीकरण स्वीकृति आदेश यहीं पर जारी किए जाएंगे जिन्हें कर्मचारी डाउनलोड कर सकेंगे। अपने आवेदन की प्रगति भी यहीं देख पाएंगे।

तो चलिए स्थायीकरण के लिए शाला दर्पण के माध्यम से ऑनलाइन आवेदन करने की प्रक्रिया के बारे में जानते हैं।

कर्मचारी द्वारा शाला दर्पण से स्थायीकरण आवेदन

शाला दर्पण के माध्यम से स्थायीकरण के लिए आवेदन करने हेतु कर्मचारी या अधिकारी के लिए निम्न आवश्यक है-

  • शाला दर्पण पर स्टाफ लॉगइन आईडी एवं पासवर्ड।
  • शाला दर्पण पर शुद्ध भरा हुआ कार्मिक विवरण संबंधी प्रपत्र 10।
  • संबंधित कक्षा के 2 वर्षों का परीक्षा परिणाम।
  • कार्मिक द्वारा प्रोबेशन में लिए गए सभी अवकाशों का विवरण।

प्रोबेशनर ट्रेनी के स्थायीकरण हेतु आवेदन

आवेदन पत्र शाला दर्पण स्टाफ लॉगइन में ऑनलाइन उपलब्ध होगा इसे भरकर सबमिट करना होगा।

सबसे पहले कार्मिक को शाला दर्पण की वेबसाइट पर Staff Window में स्टाफ लॉगइन पर जाना होगा जिसके लिए विभाग द्वारा प्रदत Login ID एवं पासवर्ड आपके पास होंगे। यदि आपने अभी तक स्टाफ लॉगइन आईडी एंड पासवर्ड प्राप्त नहीं किए हैं तो यह पोस्ट पढ़ें-

शाला दर्पण पर स्टाफ कॉर्नर लॉगइन कैसे करें

रमसा की वेबसाइट पर जाकर Login ID और password तथा कैप्चा से अपने स्टाफ लॉगइन homepage पर जाएं। यहां बाएं तरफ मीनू पर क्लिक करके Forms ऑप्शन का चयन करें।

ऊपर दिए गए स्क्रीनशॉट के अनुसार Forms में application for departmental services ऑप्शन दिखाई देगा। इसमें क्लिक करने पर Forms का ऑप्शन आएगा।

यहां Forms पर क्लिक करेंगे तो यह पेज ओपन होगा-

फिलहाल यहां पर एसीपी और प्रोबेशनर ट्रेनी के फॉर्म का ऑप्शन दिखाई दे रहा है आने वाले समय में यहां पर और भी कई फॉर्म जारी किए जाएंगे। ऊपर जो Track का ऑप्शन दिखाई दे रहा है उस पर क्लिक करके आप अपने आवेदन की वर्तमान स्थिति के बारे में जान सकते हैं।

प्रोबेशनर ट्रेनी आवेदन करने के लिए confirmation form पर क्लिक करेंगे तो आवेदन पत्र ओपन हो जाएगा।

यहां पर आवेदन पत्र में क्रमांक 1 व 2 में आपका नाम, एंप्लोई आईडी, प्रोफाइल पिक्चर, पदनाम विषय आदि पहले से ही दिखाई देंगे।

आवेदन पत्र में पूर्व से ही भरी गई सूचनाएं एक बार जांच करें। उपयुक्त सूचनाएं शाला दर्पण में आपके विवरण प्रपत्र 10 में भरी गई सूचनाएं हैं। यदि इनमें कोई त्रुटि है तो आवेदन करने से पूर्व प्रपत्र 10 में भरी गई सूचनाओं को शुद्ध करें।

क्रमांक 3 में नियोक्ता अधिकारी का चयन करें। यह अलग-अलग ग्रेड के पदों के लिए अलग हो सकता है। जैसे अधिकारी (प्राध्यापक एवं संस्था प्रधान) के लिए निदेशक माध्यमिक शिक्षा, द्वितीय श्रेणी शिक्षकों के लिए संयुक्त निदेशक तथा अन्य पदों के लिए जिला शिक्षा अधिकारी।

क्रमांक 4 में अपने जिले का चयन करें एवं क्रमांक 5 में मेरिट नंबर, परिणाम यदि रिवाइज किया हो गया हो तो हां या ना का चयन करें।

अन्य कॉलम आपको भरे हुए मिलेंगे। यदि कोई कॉलम खाली है तो उसमें सही ऑप्शन का चयन करें।

परीक्षा परिणाम में जिन कक्षाओं को आपने पढ़ाया है उनको सेलेक्ट करते हुए निर्देशानुसार परिणाम भरें और सेव करें।

अवकाश विवरण में परिवीक्षा काल में लिए गए सभी प्रकार के अवकाश का विवरण भरना है। आकस्मिक अवकाश प्रत्येक वर्ष का अलग-अलग भरना है। अन्य अवकाश जैसे प्रसूति अवकाश, पितृत्व अवकाश, अवैतनिक अवकाश या अन्य कोई अवकाश आपने लिया हो उसका दिनांक अनुसार विवरण भरें। यदि कोई संबंधित आदेश है तो उसकी फाइल यहां अपलोड करें।

एक बार जांच कर इसे सेव कर दें। फिर इसका प्रिंट निकाल कर अपनी भरी गई सूचनाओं को पुनः जांच कर लें। अच्छी तरह संतुष्ट होकर अपने ऑनलाइन स्थायीकरण आवेदन फॉर्म को final submit कर दें।

फाइनल सबमिट करने पर आपके मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी प्राप्त होगा जिसे सबमिट करने पर आपका ऑनलाइन स्थायीकरण आवेदन फॉर्म संस्था प्रधान के पास प्रेषित हो जाएगा।

संस्था प्रधान/कार्यालय अध्यक्ष द्वारा स्थायीकरण आवेदन सीबीईओ को प्रेषित करना

कार्मिक के द्वारा फाइनल सबमिट करने के बाद स्थायीकरण आवेदन फॉर्म विद्यालय के शाला दर्पण मोड में आ जाएगा। अब संस्था प्रधान यहां से उसे जांच करके सीबीईओ के लिए प्रेषित करेंगे।

इसके लिए विद्यालय के शाला दर्पण पर लॉगइन करके staff टैब में जाएं। यहां form approval पर क्लिक करें।

यहां किया गया आवेदन pending में दिखाई देगा। यदि एक से अधिक आवेदन है तो संस्था प्रधान संबंधित फॉर्म की आईडी पर क्लिक करके उसे जांच करें और सही पाए जाने पर approval करेंगे।

अप्रूवल करने से पहले संस्था प्रधान संबंधित कार्मिक का सेवा पुस्तिका से रिकॉर्ड मिलान करेंगे। यदि कोई त्रुटि पाई जाती है या कोई दस्तावेज अपलोड नहीं किया गया है तो यहां से कर सकते हैं। इसके बाद संस्था प्रधान द्वारा अप्रूवल करने पर यह ऑनलाइन उच्च अधिकारी सीबीईओ को आगे कार्यवाही के लिए प्रेषित हो जाएगा।

सीबीईओ द्वारा स्थायीकरण आवेदन को विभागाध्यक्ष/नियोक्ता को प्रेषित करना

संस्था प्रधान द्वारा फॉरवर्ड करने के बाद यह अग्रिम कार्यवाही के लिए सीबीईओ ऑफिस के शाला दर्पण मैनेजमेंट मॉड्यूल में प्रदर्शित होगा।

अब सीबीईओ कार्यालय से application for departmental service के ऑप्शन में यह आवेदन pending रूप में दिखाई देगा। सीबीईओ ऑफिस आवेदन की जांच करके इसे अग्रिम कार्यवाही के लिए Approval करके नियोक्ता अधिकारी को प्रेषित करेंगे।

यदि आवेदन फॉर्म में कोई त्रुटि पाई जाती है या दस्तावेज अपलोड करने से रह गए तो यहां से कर सकते हैं।

यदि आवेदन फॉर्म में कोई कमी पाई जाती है तो यहां से reject पर क्लिक करें। आवेदन संबंधित संस्था प्रधान के शाला दर्पण आईडी पर चला जाएगा। संबंधित संस्था प्रधान पुनः संशोधन करके फॉरवर्ड करें।

इस तरह से यह आवेदन प्रक्रिया तीनों स्तरों पर संचालित होगी। यदि संस्था प्रधान को कार्मिक के किसी सूचना में संदेह है तो वह कार्मिक की आईडी पर रिजेक्ट करके वापस भेजेंगे।

संबंधित कार्मिक त्रुटि सुधार करते हुए अपना आवेदन फिर से संबंधित संस्था प्रधान को प्रेषित करेगा। संस्था प्रधान इसे सीबीईओ को प्रेषित करेंगे और सीबीओ कार्यालय जांच उपरांत नियोक्ता अधिकारी को प्रेषित करेंगे।

जैसा कि मैंने ऊपर बताया कार्मिक अपने स्थायीकरण ऑनलाइन फॉर्म का स्टेट्स कभी भी देख सकते हैं। ऊपर दिए स्क्रीनशॉट के अनुसार ट्रैक में जाकर कार्मिक देख सकते हैं कि उनका ऑनलाइन आवेदन किस स्तर पर प्रक्रियाधीन है।

और जैसा माध्यमिक शिक्षा विभाग और राजस्थान सरकार द्वारा अपडेट किया जाएगा वैसी यहां सूचना उपलब्ध करा दी जाएगी। धन्यवाद।


Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *