School College website:अपने स्कूल और कॉलेज की वेबसाइट कैसे बनाएं।

School ki website kaise banaye? आज ही ऑनलाइन करें अपने स्कूल या कॉलेज की संपूर्ण जानकारी और गतिविधि। अपने स्टूडेंट, अभिभावक और संपूर्ण स्टाफ से ऑनलाइन जुड़े, साथ ही अपने स्कूल और कॉलेज की प्रत्येक गतिविधि को सबके साथ साझा करें। एक बेहतरीन स्कूल वेबसाइट या कॉलेज वेबसाइट या अपने किसी भी शिक्षण संस्थान की वेबसाइट बनाकर अपनी उपलब्धियों, नवीन सूचनाओं का आदान प्रदान करें और अपने व्यवसाय को नई ऊंचाइयों तक ले जाएं।

स्कूल की वेबसाइट

इस लेख में हम जानेंगे कि अपने विद्यालय की वेबसाइट कैसे बनाते हैं? ऑनलाइन अपने स्कूल की वेबसाइट से कैसे हम बहुत सारे लोगों तक पहुंच सकते हैं या वे सारे लोग जो हम से जुड़े हैं, कैसे हम तक पहुंच सकते हैं और कैसे हम 24 घंटे अनवरत रूप से अपने विद्यार्थियों एवं सहभागियों के साथ मिलकर शिक्षा में अर्जित अपने लक्ष्य को ढेर सारे आयाम दे सकते हैं?

School ki website Kaise banaye

School website बनाने के लिए एक डोमेन नेम होना जरूरी है इसके अलावा यदि आप अपने स्कूल की प्रोफेशनल वेबसाइट बनाना चाहते हैं तो होस्टिंग भी जरूरी है।

स्कूल की वेबसाइट आप फ्री में या फिर पैसे देकर ऑनलाइन टूल पर भी बनवा सकते हैं परंतु इससे बेहतर है कि पहले आप अपने स्कूल वेबसाइट के लिए एक विचार करें और अपने स्कूल नाम और उसके ब्रांड के अनुसार ही स्कूल वेबसाइट बनाकर लॉन्च करें।

School Website Kaise banaye

  • अपने स्कूल का डोमेन नाम रजिस्टर करें
  • स्कूल वेबसाइट के लिए अच्छी होस्टिंग क्रय करें
  • वेबसाइट के नाम में स्कूल ब्रांड नाम खरीदें
  • school website की बेहतरीन डिजाइनिंग करें
  • स्कूल वेबसाइट में गैलरी में बेहतरीन फोटो ऐड करें
  • स्कूल का पता और संपर्क नंबर दर्ज करें
  • स्कूल इंफ्रास्ट्रक्चर और अन्य सुविधाओं को सम्मिलित करें
  • स्कूल मान्यता संबंधी दस्तावेज अपलोड करें
  • शैक्षणिक गतिविधियों को वेबसाइट पर दर्शाए
  • एकेडमिक तथा अन्य गतिविधियों को दर्शाइए
  • एकेडमिक एवं अन्य उपलब्धियों का प्रचार करें
  • विद्यार्थी अभिभावक डिजिटल संवाद बनाएं

इसके अलावा भी बहुत सारी चीजें हैं जिन्हें आप अपनी स्कूल वेबसाइट में सम्मिलित कर सकते हैं। इनसे आपके स्कूल का ब्रांड नेम प्रचारित होगा और आप ऑनलाइन अपने स्कूल को प्रसिद्ध कर पाएंगे।तो सबसे पहले जानते हैं कैसे हम अपने स्कूल की वेबसाइट ऑनलाइन बना सकते हैं? इस डिजिटल शिक्षा के युग में कैसे हम ऑनलाइन वेबसाइट के पोर्टल से हजारों और यहां तक कि लाखों व्यक्तियों से जुड़ सकते हैं और ज्ञान का साझा कर सकते हैं।

वेबसाइट क्यों बनाएं ?

अगर आपका कोई प्राइवेट स्कूल कॉलेज या अन्य सामाजिक या व्यावसायिक संस्थान है तो इंटरनेट की दुनिया में प्रतिष्ठा बनाने, अपने व्यवसाय को और बुलंदियों तक पहुंचाने तथा अपने क्षेत्र एवं एक बड़े विशालकाय लोगों के समूह तक अपनी पहुंच बनाने के लिए वेबसाइट या यूट्यूब चैनल होना अति आवश्यक है।

वैसे तो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म जैसे व्हाट्सएप फेसबुक इंस्टाग्राम आदि पर भी हम साथ जुड़े रहते हैं परंतु इनसे हम लोगों तक सीमित रूप से ही जोड़ते हैं और इन सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म की नीतियों के अनुरूप चलना पड़ता है तथा हमें अपने कंटेंट या व्यवसाय के लिए एक संपूर्ण और विस्तृत रूपरेखा इन प्लेटफार्म पर शेयर नहीं की जा सकती और इन पर शेयर की गई सामग्री भी कुछ समय के लिए अस्थाई रूप से ही प्रदर्शित होती हैं।

इसलिए हमें अपने स्कूल या संस्थान के लिए एक वेबसाइट या यूट्यूब चैनल बनाना चाहिए। जिस पर हमारे संस्थान की संपूर्ण जानकारी एक जगह स्थाई रूप से रहेगी और उसमें बदलाव करने या अपडेट करने की पूर्ण स्वतंत्रता हमारे पास स्वयं होती हैं। लोग सर्च करते हुए स्कूल या कॉलेज की वेबसाइट पर आएंगे जहां पर उनको उनकी जरूरत की जानकारी और सहायता मिलेगी।

वर्तमान युग ऑनलाइन का युग है, लगभग सभी के पास स्मार्ट फोन उपलब्ध हैं। हर व्यक्ति किसी संस्थान में न जाकर उसके बारे में संपूर्ण जानकारी इंटरनेट पर सर्च करता है और अपनी जरूरत के अनुसार संपूर्ण जानकारी इकट्ठा करने के बाद वह संस्थान से संपर्क करता है।

चाहे किसी स्कूल में बच्चे का प्रवेश करवाना हो या अपने क्षेत्र का कोई बढ़िया स्कूल का चयन करना हो या फिर अपने बच्चे की शिक्षा के संबंध में स्कूल या कॉलेज मैनेजमेंट से संबंध स्थापित करना हो, आजकल अभिभावक भी बचत और आने-जाने के झंझट से मुक्त रहने के लिए यह सब इंटरनेट पर ही सर्च करते हैं।

शहरी क्षेत्रों के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी पढ़े लिखे एवं नौकरी करने वाले या पेशेवर अभिभावक इंटरनेट पर ही जानकारियां सर्च करते हैं। वैसे भी वह स्कूल या कॉलेज जिस का स्तर बहुत बढ़िया होता है, प्राय सभी बड़े पब्लिक प्राइवेट स्कूल और कॉलेजों की अपनी वेबसाइट बनी होती है, यहां तक कि छात्र और शिक्षक पढ़ाई और एसेसमेंट की जानकारी भी ऑनलाइन ही उपलब्ध करवाते हैं।

अच्छे प्राइवेट स्कूलों के द्वारा ऑफलाइन के साथ-साथ वेबसाइट या यूट्यूब चैनलों के माध्यम से ऑनलाइन स्टडी मैटेरियल उपलब्ध कराने का ग्राफ भी बहुत तेजी से बढ़ा है।

अभिभावक ही नहीं बल्कि सीनियर स्तर के विद्यार्थी और कॉलेज स्टूडेंट भी ऑनलाइन विभिन्न स्कूल या कॉलेज के बारे में सर्च करते हैं और अच्छे संस्थान में प्रवेश लेने या उसकी क्वालिटी के बारे में जानकारियां एकत्र करते हैं। आने वाले समय में वेब पोर्टल की आवश्यकता इतनी बढ़ जाएगी कि हर अच्छे स्कूल की एक वेबसाइट होगी जहां प्रबंधन और विद्यार्थी तथा शिक्षक एक ही मंच पर ऑनलाइन उपलब्ध होंगे।

स्कूल की वेबसाइट कैसी होनी चाहिए

स्कूल या कॉलेज की वेबसाइट बनाने से सबसे पहले हम बात करते हैं कि एक स्कूल कॉलेज या अन्य किसी संस्थान की वेबसाइट कैसी होनी चाहिए?

वेबसाइट का फ्रंट पेज (Home Page)

स्कूल या कॉलेज की वेबसाइट का होम पेज आगंतुकों के welcome to here या आगंतुकों का स्वागत के साथ मुख्य हैडलाइन और स्कूल का नाम होना चाहिए। स्कूल के नाम के साथ में पब्लिक स्कूल या एजुकेशन एकेडमी आदि शब्दों का प्रयोग होना चाहिए।

यह आपके स्कूल या कॉलेज का मेन पेज या फ्रंट पेज होता है, इस पर स्कूल बिल्डिंग, खेल का मैदान या विद्यार्थी प्रायोजित गतिविधियों के अच्छे एक दो फोटो होने चाहिए।

इसके बाद स्कूल के प्रधानाचार्य या फिर संचालक कमेटी की कलम से विद्यार्थियों अभिभावकों और सर्वजन के लिए एक संदेश के साथ विद्यालय में उपलब्ध संसाधनों, फैकल्टी, विषयों और अपने स्कूल द्वारा उपार्जित उपलब्धियों का एक संक्षिप्त ब्यौरा प्रस्तुत करना चाहिए। इसके साथ ही स्कूल में वर्तमान में अध्ययन कर रहे विद्यार्थियों शैक्षणिक स्टाफ आदि का आंकड़े अनुसार ब्योरा भी संलग्न करना चाहिए।

वेबसाइट पर नीचे स्क्रोल करने के लिए विभिन्न पेज निर्माण करने चाहिए और उनका लिंक यथास्थिति अपडेट करना चाहिए। के साथ ही वेबसाइट अपडेट करने की तिथि भी अंकित करनी चाहिए जिससे विजिटर्स को यह नहीं लगे कि वेबसाइट केवल बनाकर छोड़ दी गई है और वर्तमान में कोई जानकारी उपलब्ध नहीं है। इसके लिए आपको निरंतर विद्यालय में होने वाली गतिविधियों की सूचना यहां अपडेट करनी होंगी।

डिजिटल टेक्नोलॉजी पर लिखने के लिए मैं दुनिया भर की वेबसाइट सर्च करता हूं, अमेरिका जापान या फिर अन्य किसी भी देश की मेरी खोज से रिलेटेड वेबसाइट।(मुझे सभी देशों की भाषाएं नहीं आती पर गूगल पर अनुवाद करने के लिए बहुत सारे फीचर्स मौजूद हैं) मैंने यही देखा है कि ज्यादातर लोग वेबसाइट बना तो देते हैं, परंतु उसे उसी अवस्था में छोड़ देते हैं शायद इसके पीछे धन उपार्जन एक मुख्य कारण हो सकता है। आजकल ब्लॉग और यूट्यूब चलाने का फैशन चल गया है परंतु अधिकतर लोग 1-2 वीडियो डालकर इतिश्री कर लेते हैं क्योंकि उससे कमाई नहीं होती। इंटरनेट ऐसी दुनिया नहीं है जहां रातो रात करोड़पति बना जा सके, नहीं।यहां मेहनत करनी होती है।

हमारे देश में भी चलन चल गया है, एक ब्लॉगर या यूट्यूबर बनने का। सरकार के स्तर पर भी वेबसाइट बनाने और शिक्षा से संबंधित जानकारी सभी स्कूल कॉलेज में प्रारंभ की गई थी परंतु मैं देखता हूं कि उत्तर प्रदेश और मध्य प्रदेश के बहुत सारे ऐसे स्कूल कॉलेज या विश्वविद्यालय हैं जिन्होंने एक बार वेबसाइट बनाकर छोड़ दी उसके बाद कभी उसको अपडेट नहीं किया। विद्यार्थी सर्च करते हैं वेबसाइट पर जाते हैं परंतु अपने कोई जानकारी नहीं मिल पाती हालांकि इस मामले में राजस्थान और पश्चिम बंगाल जैसे कुछ राज्य अग्रणी हैं जो एजुकेशन से रिलेटेड संपूर्ण जानकारी को अपडेट करते रहते हैं। खैर यह बातें फिर कभी।

सरकारी वेबसाइट की तुलना में प्राइवेट कॉलेज और विश्वविद्यालय के द्वारा उपलब्ध कराई गई जानकारी अपडेट नहीं है और जानकारी के अभाव में हमारे विद्यार्थी प्राइवेट संस्थान में महंगी महंगी फीस का भुगतान करते हैं।

स्कूल वेबसाइट का डिजाइन

school website का डिजाइन आकर्षक और सुंदर होना चाहिए। आजकल विभिन्न ग्राफिक और लेटेस्ट डिजाइन इंटरनेट पर उपलब्ध है। स्कूल वेबसाइट का डिजाइन किस तरह से किया जाना चाहिए कि उसमें उपलब्ध विभिन्न सामग्री फोंट और अन्य पेजों में दिखाई दे।

यदि आपकी स्कूल या कॉलेज पेशेवर है तो आप अच्छी डिजाइन के साथ एक बेहतरीन वेबसाइट बना सकते हैं, जिसमें विभिन्न रंग और फोंट के साथ समस्त सूचनाएं दर्शित होती हों। स्कूल या कॉलेज की वेबसाइट में Menu नाम से होम पेज क्रिएट करें और उसमें यह सब जानकारी दर्ज करें कि आपके संस्थान द्वारा कौन कौन से कोर्सेज करवाए जाते हैं और उन कोर्सेज में प्रवेश पाने के लिए क्या पात्रता चाहिए तथा यदि वेबसाइट सीनियर स्तर का है तो उसमें विभिन्न बोर्ड और यूनिवर्सिटीज के लिंक भी ऐड करने चाहिए।

स्कूल या कॉलेज की वेबसाइट कैसी होनी चाहिए

एक बेहतरीन स्कूल या कॉलेज की वेबसाइट आकर्षक और सुंदर होने के साथ-साथ कैंपस में चल रहे विभिन्न कार्यक्रमों, स्टूडेंट्स की उपलब्धियों, टीचिंग स्टाफ की योग्यता और उपलब्धि तथा संस्थान द्वारा किए गए कार्यों और उपलब्धियों का बेहतरीन विवरण आकर्षक ढंग में प्रस्तुत होना चाहिए।

  1. स्कूल या कॉलेज संस्थान की साइट पर सबसे पहले अपने द्वारा उपलब्ध और और स्टूडेंट्स की उपलब्धियों को दिखाना चाहिए।
  2. विद्यार्थियों द्वारा पिछले वर्ष के शैक्षणिक रिकॉर्ड को हाइलाइट करें
  3. स्टाफ में नियमित शिक्षकों या प्रोफेसर का बायोडाटा और उनकी उपलब्धियों को दर्ज करें
  4. संस्थान द्वारा पिछले वर्षों में की गई उन्नति का उल्लेख करें
  5. यदि आपके किसी विद्यार्थी ने खेलकूद या अन्य गतिविधियों में राज्य स्तरीय राष्ट्रीय स्तर पर उपलब्धि प्राप्त की है तो उसको भी दिखाएं।
  6. अपना वार्षिक परीक्षा परिणाम इस पर अपडेट करें और पिछले वर्षों का परीक्षा परिणाम भी तुलनात्मक रूप से अपडेट करते रहे।

प्राय देखा जाता है कि प्राइवेट स्कूल या प्राइवेट कॉलेज वाले कभी भी अपनी वेबसाइट पर प्रवेश प्रक्रिया और विद्यार्थियों से ली जाने वाली फीस का सार्वजनिक अवलोकन नहीं करवाते हैं क्योंकि उनको जरूरत होती है इसलिए फीस या किसी अन्य चार्ज में कमियां बढ़ोतरी कर देते हैं। यदि आपका संस्थान प्रतिष्ठित है तो आप फीस और प्रवेश प्रक्रिया संबंधी जानकारी अपलोड कर सकते हैं। यदि आपका संस्थान फीस और अन्य लेनदेन की भावना से जूझ रहा हो तो इसे रहने ही दे।

स्कूल वेबसाइट बनाने के फायदे

  • आपकी स्कूल या कॉलेज या संस्थान का प्रचार होता है
  • आपकी स्कूल या संस्थान की गुणवत्ता का पता चलता है
  • आपके अकैडमी टीचर और अन्य स्टाफ की योग्यता का पता चलता है
  • आपके क्षेत्र के इच्छुक अभिभावक अपने बच्चे के एडमिशन के लिए आपसे संपर्क करते हैं
  • आपकी वेबसाइट पर आपकी स्कूल या कॉलेज से संबंधित संस्थान से जानकारी प्राप्त करके अपने बच्चे को प्रवेश दिलाने का निर्णय लेते हैं।
  • सबसे बेस्ट और आकर्षक विद्यालय या कॉलेज को एडमिशन लेने के लिए चुनते हैं
  • आजकल सीधे संपर्क करने का जमाना नहीं रहा इसलिए वह सारी जानकारी आपकी वेबसाइट पर प्राप्त कर लेते हैं
  • आप की उपलब्धियों के बारे में दूसरों से पूछते हैं तो वह भी सर्च किया वह बता देते हैं।

अपने स्कूल और वेबसाइट बनाने के लिए यह फायदे होते हैं

स्कूल वेबसाइट बनाने का तरीका

आप अपने स्कूल या कॉलेज की या संस्थान की वेबसाइट कैसे बनाएं?

अपने स्कूल या कॉलेज की वेबसाइट बनाने का सबसे आसान तरीका है आप गूगल पर जाकर इसके बारे में सर्च करें तो आपको बहुत सारी प्राइवेट कंपनी इसके लिए प्रोवाइड करती हैं और वह थोड़े से मुल्य में आपकी इच्छा अनुसार स्कूल का वेबसाइट तैयार कर देंगे।

यदि आप चाहते हैं कि आपकी स्कूल बहुत बड़ी है और उसका बड़ा नाम है तो आप उसके अनुसार वेबसाइट डेवलपर से अपने स्कूल या कॉलेज या किसी संस्थान की वेबसाइट तैयार करवा सकते हैं।

अभी हम देखते हैं कि बहुत सारे प्राइवेट स्कूल कोचिंग संस्थान आदि भी चलाते हैं इसलिए वह खूब सारे पैसे देकर वेबसाइट डवलपर वेबसाइट डिजाइनिंग के तकनीकी विशेषज्ञों से अपने स्कूल या कॉलेज की वेबसाइट डिजाइन करवाते हैं और यह बहुत आकर्षक दिखाई देता है। कुछ विद्यालय जैसे दिल्ली पब्लिक स्कूल या ऑरेंज विद्यालय यह सब एक बार वेबसाइट डिजाइनर को भुगतान कर देते हैं और उसके बाद सारा ऑनलाइन काम उनके द्वारा ही किया जाता है।

हालांकि यह सब आप भी कर सकते हैं परंतु इसमें खर्चा बहुत ज्यादा होता है। परंतु आप कम खर्च में या बिना पैसे खर्च किए भी अपने स्कूल या कॉलेज का प्रचार कर सकते हैं बस आपको थोड़ी सी जानकारी सर्च करने की आवश्यकता है।

आप बिना पैसे खर्च किए भी अपनी वेबसाइट बना सकते हैं लेकिन थोड़ी सी तकनीकी जानकारी की आवश्यकता होगी। आपको यह जानकारी हम उपलब्ध कराएंगे। और यदि आप अपनी स्कूल या किसी संस्थान की वेबसाइट बनाना चाहते हैं तो हम आपको फ्री में वेबसाइट बनाकर देंगे।

आप गूगल पर अपनी फ्री ब्लॉग या वेबसाइट बना सकते हैं इसके लिए कोई चार्ज नहीं होता। जब आप की वेबसाइट शानदार और सुंदर बन जाए और आपको लगे कि अब इससे कमाई भी कर सकते हैं उसके बाद आप भले ही पेशेवर वेबसाइट बना लें। फिलहाल आप अपनी स्कूल या कॉलेज की बढ़िया और शानदार डिजाइन की हुई वेबसाइट बनाएं ,जिससे लोग आपको देखे पहचाने। धन्यवाद।

यदि आप अपने स्कूल या कॉलेज या निजी संस्थान की फ्री Google domain पर वेबसाइट बनवाना चाहते हैं तो हमसे संपर्क करें। यदि आप पेड वेबसाइट जैसे GoDaddy, hostgator या blue chiep से डोमैन खरीदते हैं या वर्डप्रेस पर अपना ब्लॉग या वेबसाइट बनाना चाहते हैं तो संबंधित वेबसाइट पर संपर्क कर सकते हैं। अभी सभी विदेशी कंपनियों ने भारत में भी सभी ऑफिस कॉल रखे हैं और वहां से आप अपने स्कूल या कॉलेज की/अच्छी वेबसाइट बनवा सकते हैं।

अपने स्कूल की शानदार वेबसाइट कैसे बनाएं

आप अपने स्कूल की शानदार वेबसाइट गूगल पर जाकर या worldpress.com पर जाकर आसानी से बना सकते हैं। यदि आपको इसमें कोई परेशानी आती है तो हम सहायता करने के लिए तैयार हैं। अपने विद्यालय की बहुत बढ़िया वेबसाइट बनाइए और अपने विद्यालय में प्रचारित गतिविधियों को उस पर अपलोड करिए।

आप अपनी स्कूल की शानदार वेबसाइट बना सकते हैं। यदि आप हमसे अपने स्कूल की शानदार वेबसाइट बनवाना चाहते हैं तो हमारे व्हाट्सएप नंबर या ईमेल एड्रेस पर संपर्क कर सकते हैं।

School ki Website Kaise banaye

  • अपनी स्कूल वेबसाइट का ब्रांड नेम चुने
  • स्कूल के नाम से वेबसाइट डोमेन खरीदें
  • स्कूल की शैक्षणिक एवं भौतिक गतिविधियों का संकलन करें
  • स्कूल की वेबसाइट पर पूरी जानकारी दर्शाए
  • स्कूल गतिविधियों की एक रूपरेखा बनाएं
  • हमसे संपर्क करें और स्कूल की अच्छी वेबसाइट बनवाएं।

अगली श्रंखला में, एक फ्री ब्लॉग या वेबसाइट कैसे बनाएं।

हमारे व्हाट्सएप नंबर 8504025717

या ईमेल आईडी [email protected] या [email protected] पर संपर्क कर सकते हैं।

YouTube यूट्यूब पर सर्च करने का बेस्ट समय।