अनुसूचित जनजाति की कक्षा 10की छात्रा के लिए स्कूटी योजना

अनुसूचित जनजाति निशुल्क स्कूटी योजना के अंतर्गत राजस्थान सरकार अनुसूचित जनजाति की बालिकाओं को उच्च अध्ययन के लिए प्रोत्साहित करने हेतु अनुसूचित जनजाति निशुल्क स्कूटी योजना जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग द्वारा संचालित कर रही है इस योजना ने अनेक बालिकाओं को उच्च अध्ययन के लिए प्रोत्साहित किया है

राजस्थान सरकार की निशुल्क स्कूटी योजना

राजस्थान सरकार की निशुल्क स्कूटी वितरण योजना

नमस्कार मित्रों।आज की इस पोस्ट में हम पढ़ेंगे,राजस्थान सरकार के anusuchit janjati kshetriya vikas vibhag द्वारा अनुसूचित जनजाति की छात्राओंं को दी जाने वाली निशुल्क Scooty योजना के बारे में………कि इस nishulk scooty योजना के तहत कौन छात्राएं पात्र हैं और स्कूटी प्राप्त करने के लिए Apply कैसे करना होगा. अनुसूचित जनजाति निशुल्क स्कूटी योजना हेतु आवेदन करनेे की full process की जानकारी इस पोस्ट में आपको पता चल जाएगी.

सरकार का यह प्रयास रहा है कि अधिक सेे अधिक संख्या में Interior areas की बालिकाएं भी उच्च शिक्षा(College Education) के क्षेत्र की ओर अग्रसर हो, बालिकाओं को उच्च अध्ययन के लिए Motivate करने हेतु सरकार ने विभिन्न प्रकार की बहुत सारी योजनाएं चला रखी हैं. ऐसी ही यह स्कीम है nishulk scooty vitran yojna.

सरकार ने  गार्गी पुरस्कार, आपकी बेटी योजना,कस्तूरबा गांधी, transport voucher,गृह किराया जैसी कई योजनाएं चला रखी हैं।इन सबका उद्देश्य है सभी बालिकाओं को शिक्षा से जोड़कर उन्हें आगे बढ़ने का अवसर प्रदान करना।

ऊपर वर्णित योजनाओं केेे प्रचार प्रसार का ही असर है कि ग्रामीण और पिछड़े हुए परिवेश के अभिभावकोंं मेंं अपनी कन्याओं को  उच्च शिक्षा दिलाने के प्रति बहुत जागरूकता उत्पन्न हुई है.पूर्व की तुलना में आज महाविद्यालयों में बेटियों की संख्या अधिक हुई है और बेटियां लड़कों की तुलना में शिक्षा के प्रति अधिक गंभीर हैं उनका Percentage of Result (परिणाम प्रतिशत )भी अधिक है।

दोस्तों। आज हम इसी पर चर्चा कर रहे हैं। पहले ये योजना सिर्फ उन्हीं बालिकाओं के लिए थी जिन्होंने 12 वीं पास कर ली हो वो भी 75 प्रतिशत अंंको के साथ।

अब 10वीं पास को भी मिलेगी स्कूटी

 
राजस्थान में बहुत सारे ग्रामीण परिवेश (ruler culture ) में उच्च शिक्षा के लिए Colleges उपलब्ध नहीं हैं या बहुत दूर हैं .ऐसे दुर्गम और साधन विहीन क्षेत्र हैं जहां उच्च शिक्षा के लिए महाविद्यालयों तक आवागमन की सुविधा भी नहींं हैै mostly इसी कारण सेे बहुत सारी बालिकाएं school education के बाद अपना अध्ययन आगेेे जारी नहीं रख पाती हैं ।

इसलिए सरकार ने ऐसी बेटियों की समस्या को ध्यान में रखतेे हुए  इस योजना की शुरुआत की है कि जिससे कि ग्रामीण परिवेश की बालिकाओं को शिक्षा पाने के लिए परेशान नहीं होना पड़ेेेे और सुविधाओं के अभाव में उनकी शिक्षा अधूरी नहीं रह  पाये।

इसलिए Rajasthan government ने बालिकाओं को निशुल्क स्कूटी वितरण करने की योजनाएं बनाई हैं ।ऐसी schedule caste अर्थात अनुसूचित जनजाति की कन्याओं को इस स्कीम  के जरिए कक्षा 10 पास करने केे बाद ही स्कूटी दिये जाने का निर्णय लिया गया है। इसके लिए विभाग ने कुछ नियम बनाए हैं  योजना का लाभ लेने के लिए इन नियमोंं को जानना आवश्यक है.

निशुल्क स्कूटी योजना के आवेदन हेतु पात्रता

  •  आवेदक छात्रा Rajasthan राज्य की schedule tribe caste अर्थात अनुसूचित जनजाति वर्ग से संबंधित हो तथा राजस्थान राज्य की स्थाई मूल निवासी हो।
  •  
  • छात्रा ने कक्षा10 में 65 प्रतिशत या उससे अधिक अंक प्राप्त किए हों । छात्रा ने यह उपलब्धि प्रथम प्रयास में हासिल की हो।पूूरक परीक्षा के अंक जोड़कर 65 प्रतिशत प्राप्त छात्रा इस योजना के तहत स्कूटी पाने की पात्र नहीं  होगी
  •  
  • इस scheme  का लाभ उन्हीं बालिकाओं को देेय होगा यानी nishulk Scooty उन्हीं छात्राओं को मिलेगी जिनके Parents माता-पिता, अभिभावक, संरक्षक या पति कोई आयकर दाता नहीं हैं अर्थात उनकी आय Income tax योग्य नहीं है।
  •  
  • छात्रा को  अन्य किसी योजना के तहत स्कूटी न मिली हो।

 यह योजना राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड अजमेर RBSE तथा केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड दिल्ली CBSE दोनों  की अनुसूचित जनजाति की बालिकाओं के लिए मान्य है।

अनुसूचित जनजाति छात्रा के लिए स्कूटी योजना

कक्षा 10 के बाद छात्रा ने यदि 12वीं में भी 65 प्रतिशत या उससे अधिक अंक प्राप्त करने में सक्षम है तो उसे स्नातक के प्रथम प्रवेश पर 20000रूपये की नकद राशि दी जाएगी तथा स्नातक के द्वितीय एवं तृतीय वर्ष में भी रुपये 10-10 हजार की राशि नकद दी जायेगी। वह सामान्य शिक्षा कला, विज्ञान, वाणिज्य वर्ग में नियमित अध्ययनरत हो। छात्रा के अध्ययन में कोई अंतराल अर्थात Gap नहीं होना चाहिए।

इस योजना के लिए स्कूटी  के लिए एप्लाई करने के लिंक जनजाति क्षेत्रीय विकास विभाग की वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा।

tad.rajasthan.gov.in

इस लिंक पर क्लिक करने पर विभाग की Website ओपन होगी जहां से आप Apply कर सकते हैं।आप अपनी SSO ID के द्वारा ही आवेदन कर सकतें हैं।
हमें कमेंट्स करें  या मेल करें
धन्यवाद।


Comments

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *